Dard Bhari Status Shayriya



अजीब लोग बसते है तेरे शहर में जालिम..मरम्मत कांच की करते है पत्थर के औजार से..




कुछ अपनों ने हमे उदास कर दिया,वरना लोग हमसे मुस्कराने का राज पुछा करते थे |





ना शौक दीदार का.. ना फिक्र जुदाई की..बड़े खुश नसीब हैँ वो लोग जो..मोहब्बत नहीँ करतेँ..





मुझे नहीं डर कुछ खोने का मैंने जिंदगी में जिंदगी को खोया है





हमने लिया सिर्फ होंठों से जो तेरा नाम..दिल होंठो से उलझ पड़ा कि ये सिर्फ मेरा है..





शायरी के शौक़ ने इतना तो काम कर दिया..जो नहीं जानते थे उनमें भी बदनाम कर दिया..




जिसके लफ़्ज़ों में...हमे अपना अक्स मिलता है..बड़े नसीबों से...ऐसा कोई शख़्स मिलता है.........




नहीं है हम इतने हसीन की हर किसी के दिल में बस जाए...!!पर जिसके साथ चल पड़े जिन्दगी उसी के नाम कर देते है...!!_*




दोस्ती रूह में उतरा हुआ रिश्ता है साहब,मुलाकातें कम करने से दोस्ती कम नहीं होती..!_*




मुझे इंतज़ार रहेगा तमाम उम्र तेरा...,इश्क़ मुझे तुझसे ही नहीं...तेरे होने से भी है...!_*




मोहब्बत तो मोहब्बत है और हमेशा रहेगी…फिर चाहे वो नाराज़ हो, बेरुख़ी दिखाए.. ख़ामोश हो जाए, जलाए, या भूल जाए..._*




पर्दा तो होश वालों से किया जाता है ,बेनकाब चले आओ हम तो नशे में है..!_*




चाहतों ने दिल को दिल से, इस तरह सलाम किया जीत कर भी जीत नहीं, हार कर भी हार नहीं




कुछ तो हाथ तेरा भी था मान जा मेरी तबाही में।सबको ख़ून दिख रहा है अब अश्क़ों की स्याही में।




मोहबत करने वाले बड़े नादान होते है हासिल कुछ नही होता मगर बदनाम होते है!_*




याद आयेगी हर रोज, मगर तुझे आवाज न दूंगा...लिखूंगा तेरे ही लिये हर गजल, मगर तेरा नाम न लूंगा...





चलो मान लिया मुझे मोहब्बत करनी नहीं आती , मगर ये तो बताओ तुम्हें दिल तोड़ना किसने सिखाया





गैरों का हाथ पकड़कर चलना नहीं सीखा,बहुत कुछ सीखा...लेकिन बदलना नहीं सीखा..!





धडकनों को कुछ तो काबू में कर ए दिल,अभी तो पलकें झुकाई है मुस्कुराना अभी बाकी है उनका..




मरने से पहले एक बार खुल कर जी लेना ...इसे ही कहते हैं ज़िन्दगी से इश्क कर लेना...




बेगुनाह कोई नहीं है, सबके राज़ होते हैं...




किसी के "छुप" जाते हैं, तो किसी के "छप" जाते हैं...



रुकी हुई मेरी कश्ती मे, जरा पंख तो लगा दे......मुझे भी चलना आता है, तु बस वो रास्ता दिखा दे.



*_बहुत ही खूबसूरत लम्हा था वो जब उसने कहा था मुझे तुमसे मोहब्बत है और तुमसे ही रहेगी_*


 *_तुझे जब धड़कनों में बसाया तो … धड़कने भी #बोल उठी..  अब मज़ा आ रहा हैं धक-धक करने में …_*



‬: *_ज़रूरी तो नहीं कि हर पल तेरे पास रहूँ मोहब्बत  और इबादत  दूर से भी की जाती है_*



 *_इन्तजार की घडिया खत्म कर ऐ खुदा जिसके लिए बनाया है अब उससे मिलवा भी दे जरा_*



 *_मैं दिनभर ना जाने कितनों चेहरों से रूबरू होता हूँ पर पता नहीं रात को ख्याल सिर्फ तुम्हारा ही क्यों आता है_*



*_आँख खुलते ही याद आ जाता है तुम्हारा चेहरा , दिन की ये पहली ख़ुशी भी कमाल की होती है_*



 *_आओ आज महफ़िल सजाते हैं,तुम्हें लिखकर, तुम्हें ही सुनाते हैं।_*



*_बड़ी तब्दीलिया लाया हूँ अपने आप मे लेकिन,बस तुमको याद करने की वो आदत अब भी है.._*



 *_अधूरी ख्वाहिशें, अधूरे ख्वाब...!!!सब पूरे होते हैं, एक तेरे साथ..!!!_*



 *_बहुत सोच कर अपनो से रूठा करो  . ........आज कल "मनाने" का रिवाज़ खत्म हो गया है।_*



*_~महक रही हैं जिदंगी आज भी तेरी रहमतों से.....!तेरा हर वचन मेरा कर्म बन जाए हमें ऐसी सौगात भी देना...!!~_*



वो अचानक नहीं बिछड़ा मुझसे..
नजाने कब से उन्हें एक बहाने की तलाश थी..


*निशानी क्या बताऊँ तूझे अपनें घर की ??*
*जहाँ की गलियां उदास लगे वहीं चले आना...🌷🌹*



 *वो भी क्या ज़िद्द थी जो तेरे-मेरे बीच एक हद थी..*
*मुलाकात मुकम्मल ना सही मुहब्बत बे-हद थी ..!!!*💕💕



*कीमत दोनों की चुकानी पड़ती है,*
*_बोलने की भी और चुप रहने की भी.!!_*




 "ये सोचकर की शायद वो खिड़की से झाँक ले,
उसकी गली के बच्चे आपस में लड़ा दिए मैंने !!"

🌹🌹🌹🌹🌹🌹🌹



"या तो दीवाना हँसे, या तू जिसे तौफ़ीक़ दे
वरना इस दुनिया में आ कर मुस्कराता कौन है"



 आज एक अमरीकन लडक़ी
सैट होने वाली ही थी की
पड़ोसियों ने वाई-फाई
बन्द कर दिया 😏😏😏





‬प्यार मे कोई दिल तोड़ देता है
दोस्ती मे कोई भरोसा तोड़ देता है
ज़िंदगी जीना तो कोई गुलाब से सीखे
जो खुद टूट कर दो दिलों को जोड़ देता है…
🌹🌻🌺🌹🥀🌺🌻




 😭💔👈🏻😘हजारो 😘😘रात में ☝☝एक रात होती है...😘😘
😘😘सुकून मिलता है जब 👸👈तुमसे बात होती है.💔😭👈🏻




 *_रुकी हुई मेरी कश्ती मे, जरा पंख तो लगा दे......मुझे भी चलना आता है, तु बस वो रास्ता दिखा दे.._*




 *_चलता हूं यारो कुछ काम करता हु,खुद को हँसा के अपने गम को गुमनाम करता हु।_*




*_इन्तजार की घडिया खत्म कर ऐ खुदा जिसके लिए बनाया है अब उससे मिलवा भी दे जरा_*



 *जब दर्द और कड़वी बोली*
 *दोनों सहन होने लगे....मेरे दोस्त*
*तो समझ लेना की..*
    *जीना आ गया ।।*



 *❣न दुख न तकलीफ़ हो तो क्या मजा है जीने में।*
        💧🍬💧
*बड़े से बड़े तुफान ढल जाते हैं जब आग लगी हो सीने में।❣*
Previous
Next Post »